कफन चोर गिरोह का खुलासा, पुलिस ने 7 को पकड़ा, जानिए इनकी पूरी करतूत

बागपत:- उत्‍तर प्रदेश के बागपत में बेहद शर्मनाक घटना सामने आई है। बड़ैत पुलिस ने एक ऐसे ही गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने शवों से कफन चोरी करके दोबारा मंहगे दामों में बेचने वाले गिरोह पकड़ा है। पुलिस ने मास्‍टमाइंड समेत सात लोगों को गिरफ्तार किया है। ये श्‍मशान से शव के ऊपर से कफन को लाकर उसे धोकर, प्रेस करके फिर दुकान में दोबारा बेच देते थे। पुलिस ने श्मशान घाट से मुर्दों के कफन चोर गिरोह का राजफाश करते हुए सात आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

आरोपित रात के समय श्मशान घाट से कफन और दूसरे कपड़े चोरी कर ले आते थे और उसके बाद उनकी धुलाई कराकर उन पर ग्वालियर कंपनी के स्टीकर लगा देते थे। कफन एकदम नया दिखा, इसलिए लिए रिबन और स्टीकर लगाकर पैकिंग कर देत थे। उसके बाद बाजार में बेच देते थे। इनमें कई कफन और कपड़े कोरोना पाजिटिव लोगों के होते थे।

मुसीबत बरकरार: छत्तीसगढ़ में संक्रमण रोकने और जारी हुए कड़ें निर्देश, जानिए अब क्या

सीओ आलोक सिंह ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने प्रवीण कुमार जैन पुत्र श्रीपाल जैन, नई मंडी, बड़ौत, इनके बेटे आशीष जैन उर्फ उदित जैन, भतीजे ऋषभ जैन पुत्र अरविंद जैन, श्रवण कुमार शर्मा पुत्र राममोहन शर्मा निवासी शबगा, छपरौली, राजू शर्मा पुत्र ईश्वर शर्मा निवासी फूंस वाली मस्जिद के पीछे बड़ौत, बबलू पुत्र वेदप्रकाश कश्यप निवासी गुराना रोड, बड़ौत और शाहरूख खान पुत्र मोबीन निवासी फूंस वाली मस्जिद के पीछे बड़ौत को गिरफ्तार कर लिया है।

रायगढ़: टीकाकरण को लेकर झूठी अफवाह फैलाने Facbook पर बनाए 18 अकाउंट, लड़कियों के नाम की फेक ID से फैलाता था समाज में संक्रमण

आरोपितों के पास से 520 सफेद व पीली चद्दर, 127 कुर्ते, 140 सफेद कमीज, 34 धोती, 12 रंगीन गर्म शाल, 52 रंगी बिरंगी धोती, तीन रिबन के पैकेट, 158 रिबन ग्वालियर व 122 ग्वालियर कंपनी के स्टीकर बरामद किए हैं। सीओ ने बताया कि प्रवीण कुमार की शहर में दुकान है और तीन चार लोगों को यह काम करने के लिए इसने अपने सहयोग में ले रखा था। आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर अदालत में पेश किया गया है। उधर, आरोपितों के इस घिनौने कार्य से कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।